रास्ते में मिलने वाले हर शख्स को चाकुओं से गोदते गए बदमाश

नशे में धुत दो बदमाशों पर हैवानियत ऐसी सवार हुई को उन्हें रास्ते में जो भी मिला सभी को चाकुओं से गोदते चले गए। घटना दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके की है, जहाँ बुधवार की रात इनके द्वारा पांच मासूम लोगों पर चाकुओं से हमला किया। इस वारदात के बाद दो बेकसूरों की इलाज के दौरान मौत हो गई और तीन लोग जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे हैं। पुलिस हत्या और हत्या की कोशिश की धाराओं के अंतर्गत मामला दर्ज करके दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

मंगोलपुरी आई-ब्लॉक निवासी करणवीर (48) दिनेश (32) परिवार के साथ में रहते थे। प्राप्त जानकारी के मुताबिक बुधवार की रात करणवीर खाना खाने के बाद बाहर गली में टहलने चले गए। इस बीच ड्यूटी से घर लौट रहे दिनेश और नाइट ड्यूटी पर जा रहे सिक्यॉरिटी गार्ड का काम करने वाले विनय भी वहां आ गए। गली के नुक्कड़ पर खड़े होकर यह सभी आपस में बात कर रहे थे, तभी दो नाकाबपोश युवक आए और तीनों युवकों पर चाकुओं से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। वहां खड़े अन्य लोग कुछ समझ पाते, उससे पहले हमलावर फरार हो गए।

बुरी तरह घायल विनय किसी तरह भागकर करणवीर के घर पहुंचे और करणवीर के बेटे जितेंद्र को हमले की जानकारी दी। जितेंद्र ने घटनास्थल पर देखा कि उनके पिता और पिता के दोस्त दिनेश खून से लथपथ जमीन पर पड़े हैं। पड़ोसियों की मदद से तुरंत घायलों को संजय गांधी अस्पताल पहुंचाया और पुलिस को सूचित किया गया। हालाँकि इलाज के दौरान करीब दो बजे रात में करणवीर और दिनेश की मौत हो गई।

पुलिस इस सनसनीखेज़ वारदात की जांच कर ही कर रही थी कि पता चला कि बदमाशों ने आई-ब्लॉक में रहने वाले रिक्शावाले इरशाद (32) और एम ब्लॉक में रहने वाले दिल्ली जल बोर्ड के कर्मचारी सुरेश (50) को भी चाकुओं से गोद दिया है। ये दोनों भी खाना खाकर बाहर टहल रहे थे। इन दोनों को भी संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों ने हालत बिगड़ती देख इरशाद और विनय को डीडीयू अस्पताल में रेफर कर दिया। वहीं विनय का इलाज संजय गांधी में ही चल रहा है। पुलिस ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए संजय गांधी अस्पताल के मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया था। गुरुवार को पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए। परिजन और पड़ोसियों का कहना है कि जिन पर भी हमला हुआ है, उनका किसी से कोई विवाद नहीं था। सभी मजदूर और नौकरीपेशा लोग थे।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, सभी बदमाश पहले आई-ब्लॉक स्थित एक युवक के घर के बाहर पहुंचे। कई राउंड फायरिंग की। वहां से निकलते समय रास्ते में जो भी टकराया, सभी पर चाकुओं से हमला कर दिया।

हमलावर चूहा नाम के युवक के दोस्त बताए जा रहे हैं, जिसपर बीते दिनों चाकुओं से हमला हुआ था और बुधवार को मौत हो गई थी। घटना में मुख्य आरोपी गिरफ्तार है। चूहा की मौत के बाद अपने दोस्त की हत्या का बदला लेने के लिए हमलावरों ने एक युवक के घर पर हमला किया। जब वह घर पर नहीं मिला तो रास्ते में जो मिला उसे चाकू मारते हुए चले गए। पुलिस को सीसीटीवी कैमरे की फुटेज हाथ लगी है। इस फुटेज में बदमाश भागते हुए नजर आ रहे हैं। दोनों बदमाशों ने चेहरे पर रूमाल बांधा हुआ है। फिलहाल पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लकेर पूछताछ कर रही है।

Leave a Reply

RSS
Facebook
YOUTUBE
YOUTUBE