केजरीवाल के दौरे से घिरे खट्टर ने किया शिक्षा-स्वास्थ्य की सुध लेने का वादा

पिछले दिनों आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा का दौरा किया था और इस दौरान वह सरकारी स्कूल भी गए थे, जहाँ स्थिति दयनीय पाई गई। आरविंद केजरीवाल के दौरे के बाद इस मुद्दे पर सियासी माहौल गरमा गया था।

अब हरियाणा सरकार के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपनी सरकार के 4 साल पूरा होने के मौके पर दिए बयान में कहा कि अब उनकी सरकार शिक्षा और स्वास्थ्य पर फोकस करेगी। राजनैतिक हलकों में इस बात की चर्चा है कि अरविंद केजरीवाल के हाल के हरियाणा दौरे में हरियाणा के सरकारी स्कूलों को बेहद बदतर हालत में पाए जाने से राजनैतिक भूचाल आ गया था और इस राजनैतिक प्रेशर के कारण खट्टर सरकार बैकफुट पर आ गई है।

बताते चले कि जब अरविन्द केजरीवाल हरियाणा के सरकारी स्कूल पहुंचे थे तो स्कूल की हालत बेहतर बदतर थी, बच्चे क्लास रूम में बिना रौशनी और बिजली के पढ़ाई करते पाए गए थे। हालाँकि स्कूल की हालत तब खराब पाई गई थी, जबकि केजरीवाल के आने की पूर्व सूचना मिलने पर हरियाणा प्रशासन द्वारा रातो-रात स्कूल की मरम्मत का काम शुरू करवाया गया था, जिसके फोटोग्राफ भी सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे। केजरीवाल के इस दौरे की खबर मीडिया में छाई रही थी और इसके कारण BJP की खट्टर सरकार की काफी आलोचना हुई थी।

अब जबकि खट्टर सरकार द्वारा स्कूलों और हॉस्पिटल्स की स्थिति को सुधारने का बयान आया है तो अरविंद केजरीवाल ने इसे बेहद हास्यास्पद बताते हुए कहा कि ये भाजपा वाले जनता को गुमराह करने के अलावा और कुछ नहीं करते हैं। उन्होंने मुखर होते हुए मालूम किया कि सवाल आखिर उनके हरियाणा दौरे के बाद ही उनको ये बात क्यों समझ आई कि शिक्षा और स्वास्थ्य जैसी मूलभूत सुविधाओं पर फोकस करना उनकी सरकार की जिम्मेदारी है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘3 साल पहले दिल्ली के सरकारी स्कूलों की हालत भी बद्तर थी लेकिन हमने 3 साल में दिल्ली के सरकारी स्कूलों का कायापलट किया है।’

दिल्ली मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा, ‘अगर नियत साफ हो और ईमानदारी से सरकार चलाई जाए तो असम्भव काम भी सम्भव हो सकते हैं, परन्तु BJP सरकार ऐसा नहीं कर पायी। दरअसल यह उनके बस का नहीं है, क्योंकि उनकी नियत साफ नहीं है। बीजेपी हरियाणा में आदमी पार्टी की वजह से बैकफुट पर आई है। इसी वजह से भाजपा सरकार अभी स्कूल और अस्पताल सुधारने की बातें कर रही है, क्योंकि चुनाव नजदीक हैं, लेकिन चुनाव के बाद हमेशा की तरह BJP अपने वादों को चुनावी जुमला बताकर जनता से वादाखिलाफी करने वाली है।’

Leave a Reply

RSS
Facebook
Google+
http://jantanews.in/hariana-government-on-backfoot-after-kejriwal-visit-to-hariyana">
YOUTUBE
YOUTUBE