संवेदनहीन सरकार, प्राणों की आहुति देते गंगापुत्र और मीडिया

2018:  स्वामी ज्ञानस्वरूप सानंद (प्रोफेसर जी डी अग्रवाल) 2011:  स्वामी निगमानंद गंगा की धारा को अविरल और निर्मल देखने के लिए दोनों ने प्राणों की आहुति दे दी।ऐसा करने से पहले दोनों... Read more »

हिंदी से भेदभाव क्यों?

हमारी महान मातृभाषा हिंदी हमारे अपने ही देश हिंदुस्तान में रोजगार के अवसरों में बाधक है। हमारे देश की सरकार का यह रुख अभी कुछ अरसा पहले ही सामने आया था। बोलने... Read more »

क्या केवल कानून की सख्ती से बलात्कार जैसे अपराधों को रोका जा सकता है?

दुष्कर्म के ख़िलाफ़ देशभर में फैले गुस्से पर झुकते हुए सरकार को सख्त कानून का रास्ता अपनाना पड़ा। पर क्या केवल सख्त कानून, जल्द सज़ा और पुलिस की मुस्तैदी भर से बलात्कार... Read more »

आरक्षण का सवाल और इससे उपजी हिंसा सरकार प्रायोजित है – Chanchal Bhu

आरक्षण का सवाल और इससे उपजी हिंसा ये दोनों ही सरकार के प्रायोजित कार्यक्रम हैं। इसे बारीकी से देखिए। न्यायालय में जब यह सवाल जेरे बहस था, उस समय सरकार और सरकार... Read more »

सामाजिक भेदभाव दूर करने की आवश्यकता है

बड़ी हैरत की बात है कि जो लोग ऑफिसों में डाइवर्सिटी के नाम पर महिलाओं के अधिकारों पर ज़ोर देते हैं, बराबरी की बाते करते हैं, इसके नाम पर बड़ी-बड़ी नीतियां बनाते... Read more »
RSS
Facebook
Google+
http://jantanews.in/category/vichar-manch">
YOUTUBE
YOUTUBE